Monday, March 4, 2024

Latest Posts

पुरुषों को स्त्री के स्तनों और कूल्हे दबाना क्यों अच्छा लगता है।

स्तनों को नेचर ने शिशु को दूध पिलाने के लिए बनाया था। फिर आखिर ऐसा क्या हुआ कि स्तनों को दबाना संभोग क्रिया के दौरान आवश्यक हो गया। मतलब जब पुरुष स्त्री के साथ समागम करता है तो वह उसके स्तनों को ना सिर्फ चूसता है बल्कि उसको हाथों से दबाता भी है। स्तनों में ऐसा क्या आकर्षण पुरुष को दिखाई देता है कि वह महिला के स्तनों को ना सिर्फ देखकर उत्तेजित होता है बल्कि उनको अपने हाथों से सहला कर और मुंह में लेकर आनंद महसूस करता है।

stan


कुछ संभोग कला में लिंग को स्तनों के बीच में रखकर ऊपर नीचे भी किया जाता है।

स्तन या बूब्स संभोग कला में स्त्री और पुरुष दोनों के लिए आनंद का बड़ा स्रोत होते हैं

नेचर ने स्तनों को सिर्फ शिशु को दूध पिलाने के लिए ही नहीं बनाया था बल्कि स्त्री की सुंदरता में वृद्धि के लिए भी स्तनों को बनाया गया था और यह भी सच है कि न केवल पुरुष को स्तनों को दबाना और उनको चूसना पसंद होता है बल्कि स्त्री को भी जब पुरुष उनके स्तनों को अपने हाथों से दबाता और चूसता है तो अत्यधिक आनंद की अनुभूति होती है और कुछ स्त्रियां तो स्तनों को सहलाने या मुंह में लेने से स्खलित भी हो जाती हैं।

bade kulhe


अब आप जानना चाहेंगे कि आखिर ऐसा क्यों होता है। दरअसल स्तनों के बीच का भाग जिसको अंग्रेजी में निपल्स कहते हैं। काफी संवेदनशील होता है और उसमें बहुत सारे तंत्रिकाए आकर मिलती हैं। जब पुरुष स्तनों को दबाता है और इनको अपने होठों से चूसता है तो इन तंत्रिकाओं के माध्यम से संवेदनाएं स्त्री के मस्तिष्क तक जाती है जिसकी वजह से स्त्री को अपार आनंद का अनुभव होता है।

पुरुषों को स्तनों को दबाने और मुंह में लेने में क्या मज़ा आता है

अब दूसरी बात यह है कि आखिर पुरुष को स्तनों को दबाने और चूसने में क्या आनंद आता है?
दरअसल पुरुष हार्मोन अर्थात टेस्टोस्टेरोन के प्रभाव से, पुरुषों के मन में स्त्री के शरीर के विभिन्न अंगों को लेकर कामोत्तेजना उत्पन्न होती है जैसे कि स्त्री की टांगे, स्त्री के गाल, स्त्री की गर्दन, उसके कंधे, उसका पेट और उसके स्तन अर्थात ब्रेस्ट |

स्त्रियों की तीन चीजें ऐसी होती हैं जिनको देखकर पुरुष के मन में उनको लेकर कामोत्तेजना सबसे ज्यादा उत्पन्न होती है। एक स्त्री का जननांग, दूसरा स्त्री के स्तन और तीसरा स्त्री के होंठ।
स्तन इन सबसे कम उत्तेजक अंगों में से एक होते हैं जिनको पुरुष उत्तेजित अवस्था में अपने हाथों से दबाना चाहता है और मुंह से चुंबन लेना चाहता है यही वजह है कि संभोग के दौरान स्तनों का कार्य ज्यादा महत्व रखता है।

बड़े और चौड़े कूल्हे पुरुषों को गुदा मैथुन के लिए उकसाते हैं।

बड़े कूल्हे पुरुषों को आकर्षित करते हैं, और उनका मन करता है, कि वो उनके बीच में अपना लिंग डालकर गुदा मैथुन करें, उनको दबाएं और उनपर चांटे लगाएं, चुंबन लें। बड़े कूल्हे स्त्री के शरीर को आकर्षक बनाते हैं। सुडौल कूल्हे और सुडौल स्तन महिला के सौन्दर्य का एक अभिन्न भाग होते हैं।

Latest Posts

Don't Miss